अब जनता देगी जवाब

अब जनता देगी जवाब

42
SHARE

केंद्र सरकार के नोटबंदी के निर्णय के बाद यह देश में पहले चुनाव होने जा रहे हैं! पश्चिम बंगाल में दो लोकसभा सीटों एवं एक विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव कराये जाएंगे! उपचुनाव कूच बिहार एवं तमलुक लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों और मोंटेश्वर विधानसभा क्षेत्र में होंगे! सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेसए भारतीय जनता पार्टीए वाम मोर्चा और कांग्रेस ने इन तीनों सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किये हैं!

नोटबंदी के फैसले से देश का प्रत्येक नागरिक प्रभावित हुआ है! आम आदमी को परेशानी हो रही है! इसके अलावा नोटबंदी से चुनाव प्रचार भी प्रभावित हो रहा है! तमलुक में बहुत से ग्रामीण इलाकों में अब भी बैंकिंग सुविधा नहीं है! गरीब किसान क्या करेगाघ् माकपा और कांग्रेस नेताओं के अनुसार पार्टियों के लिए नोटबंदी अचानक चुनावी मुद्दा बन गया है!

इससे पहले इस साल की शुरुआत में कांग्रेस और माकपा नीत वाम मोर्चा ने एक साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ा थाए लेकिन दोनों ने इस उपचुनाव में अलग.अलग लड़ने का फैसला किया है! उप चुनाव के प्रचार अभियान के आखिरी चरण में नोटोंबंदी मुख्य मुद्दा बन गया! पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इन उपचुनावों के लिए प्रचार नहीं किया!

सरकार के इस नए आदेश के कारण परेशानी पैदा हो रही है वहीं दूसरी ओर बीजेपी ने कहा है कि ये उपचुनाव सभी पार्टियों के लिए अग्निपरीक्षा की तरह है! राज्य बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहाए तृणमूलए कांग्रेस और सीपीएम जो कह रही हैंए वह ठीक नहीं है! बंगाल के लोग इस निर्णय से खुश हैं और वे हमारे प्रत्याशियों को विजयी बनाएंगे! बीजेपी ने कहा है कि ये उपचुनाव सभी पार्टियों के लिए अग्निपरीक्षा की तरह है!

चाहें बीजेपी कितनी भी बड़ी बड़ी बात क्यों न कहे परंतु जो हालात देश में बने हुए हैं वो कुछ और ही बयान कर रहैं हैं! मोदी जी ने बहुत बयान बाजी कर ली अब जवाब देने की जनता की बारी है! कहीं ये स्थिति न हो जाए कि करो सिंहासन खाली के आज ये जनता आती है!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY