नोटबंदी के चलते हज़ारों की संख्या में लोग हो रहे हैं बेरोेज़गार

नोटबंदी के चलते हज़ारों की संख्या में लोग हो रहे हैं बेरोेज़गार

46
SHARE

यह अनुमान लगाया जा रहा था कि नोटबंदी के कारण भारत में मुसीबतों का दौर भी शुरु हो जाएगा! यह अनुमान सही सिद्ध हुआ क्योंकि पैसे निकालने की परेशानी से जूझ रहे लोगों के सामने रोजगार की समस्या भी खड़ी हो गर्इ है! कंपनियों में काम न मिलने और रुपयों की कमी ने अब तक तकरीबन 50 हजार कर्मचारियों की नौकरी ले चुकी है!

वहीं इंडस्ट्रियलिस्ट की माने तो रुपयों की यहीं समस्या रही तो यह संख्या आैर बढ़ सकती है नोएडा में छोटी आैर बड़ी कुल आठ हजार कंपनियां हैं! इनमें करीब 10 लाख से भी ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं! कंपनी मालिकों की माने तो नोटबंदी के बाद से उनके काम पर बहुत ही बुरा असर पड़ा है!

नोटबंदी के चलते कंपनियों के पास ऑर्डर न आने आैर प्रोडक्शन घटने का सीधा असर वहां काम करने वाले कर्मचारी पर पड़ रहा है! एक कंपनी मालिक ने बताया कि उनकी कंपनी में पांच सौ लोग काम कर रहे हैं। लेकिनए नोटबंदी के बाद से आर्डर टारगेट पहले से कम हो गया है!

लोगों को ऐसी समस्या के चलते कर्मचारियों को सैलरी देने में भी मुश्किल हो रही है! करीब पचास कर्मचारियों को निकाला जा रहा है! अगर हालात एेसे ही रहेए तो आगे आैर भी नुकसान हो सकता है! कुछ कंपनियां अपने बड़े आैर मोटी सैलरी लेने वाले कर्मचारियों को मजबूरन बाहर का रास्ता दिखा रही है!

एनसीआर की हालात तो और भी गंभीर है! यहां भी नोटबंदी के बाद से अब तक दर्जनों कंपनियों में काम करने वाले 40 हजार कर्मचारी बेरोजगार हो गए हैं!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY