कितनों की बली और चड़ेगी?

कितनों की बली और चड़ेगी?

30
SHARE

जब से मोदी जी ने यह फैसला सुनाया है की बड़े नोट बन्द हो रहैं तब से लोगों की जान पर बन आई है! पांच सौ और हजार के पुराने नोटों को अमान्य घोषित किए जाने के बाद पुराने नोटों को बदलवाने के लिए बैंकों के बाहर खड़े दो बुजुर्गों की रविवार को मौत हो गई!

atm-crowd-delhi_650x400_51478937318

गुजरात के सुरेंद्रनगर जिले के लिमदी शहर में भी दिल का दौरा पड़ने की वजह से 69 साल के व्यक्ति की मौत की सूचना मिली है! मनसुख दर्जी लिमदी में बैंक ऑफ इंडिया की एक शाखा के बाहर कतार में खड़े थे और दिल का दौरा पड़ने की वजह से अचानक गिर पड़े जिसके बाद उनकी मौत हो गई!

मध्य प्रदेश के सागर जिले में एक बैंक के बाहर अमान्य घोषित किए जा चुके नोटों को बदलवाने के लिए कतार में खड़े 69 साल के एक व्यक्ति की दिल का दौरा पड़ने के कारण मौत हो गई! बताया जा है कि अमान्य नोटों को बदलवाने के लिए एक बैंक के बाहर कतार में खड़े एक बुजुर्ग विनय कुमार पाण्डेय को दिल का दौरा पड़ा उन्हें तुरंत एक निजी अस्पताल में ले जाया गया जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गयी!

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर को पांच सौ और एक हजार रुपये के पुराने नोटों का प्रचलन बंद करने की घोषणा की थी। इसके बाद से ही देश भर में बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी कतारें लगी रहीं। शटर खुलने के बाद बैकों और एटीएम में जल्दी ही नकदी खत्म होने पर लोगों में गुस्सा भी दिखाई दिया। बता दें गकि गुरुनानक जयंती के मौके पर आज बैंक बंद रहेंगे।

देशभर में अव्यवस्था का माहौल है और बैंकों एवं एटीएम के बाहर लोगों की लंबी कतारें देखने को मिलीं! कई जगहों पर लोगों के बीच झड़प की खबरें भी मिलीं! सोशल नेटवर्किंग साइड्स पर भी लोगों ने बीजेपी और मोदी के खिलाफ अपनी भड़ास निकाली!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY