मुझे 50 दिन के लिए अपना साथ दे दो- नरेन्द्र मोदी

मुझे 50 दिन के लिए अपना साथ दे दो- नरेन्द्र मोदी

118
SHARE

जापान से लौटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच सौ और हज़ार के नोट बदलने के सरकार के फैसले का ज़ोरदार बचाव किया है! उन्होंने कहा है कि जनता ने उन्हें भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए चुना है और वो वही कर रहे हैं! गोवा में देश को संबोधित करते हुए उनका कहना था कि आम जनता ने उन्हें भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए चुना है और सरकार ने बिल्कुल सही कदम उठाया है!

प्रधानमंत्री का कहना था कि उनके इस फैसले को लेकर कुछ सांसद भी खुश नहीं थे लेकिन उन्होंने इसके बावजूद ये फैसला किया! इस मामले में हो रही आलोचना के बारे में उन्होंने कहा कि वो जल्दी ही बेनामी संपत्ति के खिलाफ भी कार्रवाई करेंगे! हालांकि वो स्वयं बहुत अधिक खीज में दिखाई दिए! उन्होंने अपने इस फैसले के बारे में कहा कि वो इस गुप्त अभियान पर पिछले दस महीने से कम कर रहे थे! प्रधानमंत्री ने पिछली सरकारों की आलोचना भी की और कहा कि पुरानी सरकारों ने काला धन रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया!
उनका कहना थाए श्श्मैंने उस दिन भी कहा था कि इस फैसले से तकलीफ होगी कठिनाई होगी लेकिन मैं आज उन लोगों के सामने सर झुकाता हूं कि हज़ारों लोग पैसों के लिए कतार बना कर खड़े हैं और हर आदमी ये कह रहा है कि मुसीबत हो रही है पर इससे देश का भला होगा! जो लोग काला धन जमा कर रहे थे वो भी चार हज़ार के लिए लाइन में खड़े हैं!

प्रधानमंत्री ने बैंक कर्मचारियों का भी शुक्रिया किया! प्रधानमंत्री का कहना थाए श्श्ये फैसला सफल होगा! इसलिए नहीं कि मेरी योजना है बल्कि जो सवा सौ करोड़ जनता है उसके कारण ये सफल होगी! भले ही कुछ लाख लोग इसके साथ नहीं हैं!श्श्उन्होने लोगों से अपील की कि उन्हें बस 50 दिन का समय चाहिए! उनका कहना थाए श्श्मुझे बस पचास दिन का समय दीजिए! 30 दिसंबर तक का समयए ये देश वैसा हो जाएगा जैसा आप चाहते थे! अगर उसके बाद मुझमें कोई गलती दिखे तो जो चाहिए सज़ा दें! जिस चौराहे पर चाहे सज़ा दें!श्श्

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY