विदेशियों को लाए घर, मुद्रा के कारण परेशान थे

विदेशियों को लाए घर, मुद्रा के कारण परेशान थे

84
SHARE

नोटबंदी के कारण पूरे भारत में अफरा तफरी का माहौल है! इस फैसले से देश के लोग ही नहीं बल्कि विदेशी नागरिक भी परेशान हैं! उनके सर पर दौहरी मुसीबत आन अड़ी है एक तो मुद्रा उनके पास नहीं दूसरा वो अजनबी देश में किससे मदद की गूहार लगाएं! लेकिन इस परेशानी के चलते पिथौरागढ़ के पाठक परिवार ने 6 विदेशी नागरिकों की मदद करने की ठानी और अतिथि देवो भव: की उक्ति को साकार किया ! इस परिवार ने विदेशीयों का आदर सत्कार किया!

विदेशी करेंसी बदलने के लिए ये लोग बैंकों के चक्कर काटते रहे लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ! कूर्मांचल बैंक की शाखा में इनकी मुलाकात थियेटर फॉर एजूकेशन इन मास सोसायटी के सचिव योगेश पाठक से हुई! योगेश ने अपनी मां कविता पाठकए पिता केदार दत्त पाठक से विदेशी मेहमानों को घर पर भोज देने के लिए बात की!

माता पिता ने इसे अपना सौभाग्य मानते हुए घर पर भोजन के लिए विदेशी मेहमानों को घर पर आमंत्रित किया! विदेशी नागरिकों की दिक्कत को देखकर कूर्मांचल बैंक शाखा प्रबंधक पंकज तिवारी ने भी इन लोगों को अपनी तरफ से 1000 रुपए दिए! दोपहर के भोजन के लिए विदेशी नागरिक पाठक परिवार के घर पहुंचे!
यह 6 विदेशी नागरिक हैं पोलैंड की युवती एंजिल किस कोसमालाए यूक्रेन की युवती ड्योनिवो ओलगोए रूस निवासी पर्वतारोही टार्जनोव एलकेसीए हैती निवासी फिल्म मेकर मैक्स स्टीफन ऑलीवर फैबलसए लिथीनिया निवासी रोक्स जीसीवीसियशए फ्रांस निवासी लियोनिल मार्टिनेज और उनके साथ मुंबई से आए डाक्यूमेंट्री फिल्म मेकर राहुल हिमांती पांडे 16 नवंबर को पिथौरागढ़ पहुंचे! इनके पास भारतीय करेंसी का अभाव था!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY