यहां परिवार वाले खुद कराते हैं अपनी बड़ी बेटी से जिस्मफरोशी का...

यहां परिवार वाले खुद कराते हैं अपनी बड़ी बेटी से जिस्मफरोशी का धंधा

241
SHARE

मध्यप्रदेश के मंदसौर और नीमच ज़िले में एक ऐसा समाज हैए जहां घर की बड़ी बेटी को बनना पड़ता है वेश्या! यहां के लोग अपनी बड़ी बेटी को वेश्यावृत्ति में धकेल देते है! ऐसा कोई और नहीं बल्कि उसके अपने मां बाप ही करते हैं! उनके समाज में ऐसी अजीबो.गरीब परंपरा बरसों से चली आ रही है!

रतलाम नीमच और मंदसौर से गुजरने वाले हाई.वे पर समुदाय की लड़कियां खुलेआम देह व्यापार करती हैं! वे राहगीरों को बे.हिचक अपनी ओर बुलाती हैं! इस धंधे में उनका पूरा परिवार मदद करता है!

समुदाय में यक प्रथा है की घर में जन्म लेने वाली पहली बेटी को जिस्मफरोशी का दंश झेलना पड़ता है! मंदसौर व नीमच अफ़ीम की खेती के लिए जहां दुनिया भर में जाना जाता लेकिन देह व्यापार भी उनकी पहचान बन चुकी है!

इस समुदाय को लेकर कई जनश्रुतियां हैं! तकरीबन 150 साल पहले अंग्रेजों ने इन्हें यहां बसाया था और बाद में पेट भरने के लिए देह व्यापार इनका अपना मुख्य ज़रिया बन गया! हालांकि समुदाय के लोग खुद को राजपूत बताते हैं! उनका कहना है कि उनके वंशज राजवंश के इतने वफ़ादार थे कि दुश्मनों के राज जानने के लिए वो अपनी महिलाओं को गुप्तचर बनाकर वेश्या के रूप में भेजते थे! ऐसा भी सुनने में आता है कि अंग्रेज़ क़रीब 150 साल पहले इन्हें नीमच में अपने सिपाहियों की वासनापूर्ति के लिए राजस्थान से लाये थे!

यहां दशकों से देह व्यापार चल रहा है और अब तो पिछले कुछे सालों में ये कारोबार फ़ैल भी गया है! अब जिस्मफ़रोशी के काम में छोटी.छोटी बच्चियों को भी झोंका जा रहा है! एक विशेष समुदाय के परिवार मुख्य रूप से मध्यप्रदेश के रतलामए मंदसौर व नीमच ज़िले में रहते है! इन तीनों ज़िलों के 68 गांवों में इस समुदाय के लोग रहते हैं! तीनों ज़िले राजस्थान की सीमा से लगे हुए हैं!

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY