इटली में भूकम्प से तबाही, लोग तलाश रहे नया आशियाना

इटली में भूकम्प से तबाही, लोग तलाश रहे नया आशियाना

39
SHARE
कहा जाता है की कुदरत के आगे हर कोई बेबस है इटली में भी कुछ ऐसा ही मंज़र देखने को मिला जहाँ कुदरत केहर बनकर बरस रही है! तीन महीने के अंदर भूकंप का चौथा बड़ा झटका झेलने वाले मध्य इटली के इलाकों में हजारों लोग रातें कारों, टैंट्स और अस्थाई आवासों में बिता रहे हैं! भूकंप से इन इलाकों में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है हालांकि रविवार को आए 6.6 तीव्रता के इस भूकंप में किसी के मारे जाने की सूचना नहीं मिली है! भूकंप के बाद आने वाले झटकों से इमारतों का गिरना जारी है भूकंप से क़रीब बीस लोग घायल हुए हैं और इमारतों को भारी नुक़सान हुआ है!

ये भूकंप उस इलाक़े के पास आया है जहां अगस्त में आए भूकंप में क़रीब तीन सौ लोग मारे गए थे! नोरचा में संत बेनेडिक्ट के मध्यकालीन बिसिलिका समेत कई इमारतों को नुक़सान पहुंचा है! ताज़ा भूकंप के झटके राजधानी रोम में भी महसूस किए गए हैं जहां मेट्रो को रोक देना पड़ा!

यही नहीं उत्तरी शहर वेनिस में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए, राष्ट्रीय नागरिक सुरक्षा एजेंसी के प्रमुख फ़ेबरीत्सियो कूर्चो के मुताबिक़ भूकंप में किसी की मौत की सूचना नहीं है लेकिन कई ऐतिहासिक इमारतों को भारी नुक़सान हुआ है उन्होंने बताया, “बीस लोग घायल हुए हैं, ऐतिहासिक इमारतों को नुक़सान पहुँचा है और पानी और बिजली प्रभावित हुई है हम जिस मुश्किल वक़्त से गुज़र रहे हैं! जिस गहरे दर्द, तनाव और थकान से हम गुज़र रहे हैं उसे हम ख़ुद पर हावी नहीं होने देना है!”

सैंट बेनेडिक्ट का जन्मस्थान माना जाने वाले नोरचा शहर में उनके नाम पर बना बिसिलिका पूरी तरह बर्बाद हो गया है और सिर्फ़ बाहरी दीवार ही खड़ी रह गई है! शहर के डिप्टी मेयर के मुताबिक़ तबाही ऐसी है जैसे बम फटा हो! भूकंप से नोरचावासी सदमें और तनाव में हैं!.

कुछ लोग और भूकंप आने की आशंका के डर से शहर तक छोड़ने की तैयारी कर रहे हैं! हाल के सालों में मध्य इटली में कई बड़े भूकंप आए हैं! जिससे जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है! इससे पहले भी 2009 में आए भूकंप ने ला अकीला शहर को बर्बाद कर दिया था जिसके ज़ख्म अभी भी हरे है! इसके अलावा इसी साल अगस्त में आए भूकंप में तीन सौ के क़रीब लोग मारे गए थे!

इटली में चल रही ये परेशानी वाकई में दिल दहला देने वाली है! जिससे वहां के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है साथ ही यहाँ के लोग अपने लिए नए आशियाना तलाश रहे है इस भूकंप में उनका घर, कारोबार सब नष्ट हो ही चूका है इससे बड़ी मुसीबत है की अपनी ज़िन्दगी की नई शुरुआत कहाँ से करें?

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY