‘पूर्ण बहुमत, संपूर्ण विकास, बीजेपी पर है विश्वास’

‘पूर्ण बहुमत, संपूर्ण विकास, बीजेपी पर है विश्वास’

50
SHARE

देश की राजनिति में सबसे ज्यादा चर्चा में उत्तर प्रदेश हमेशा बना रहता है और लोकसभा चुनावों में भी उत्तर प्रदेश का अहम् भूमिका रही थी! जब राज्य में चुनाव की बात हो तो यह रोचक चर्चा का विषय बन गया है! 2017 में उत्तर प्रदेश के अंदर चुनाव होने है जिसका अभी कोई कार्यक्रम चुनाव आयोग द्वारा तय नहीं किया गया है उससे पहले ही राजनितिक पार्टियां यात्राओं और सभाओं को करके प्रदेश के अंदर सियासी माहौल पैदा कर रही है! बीजेपी ने भी अपनी परिवर्तन यात्रा शुरू करने का मन बना लिया है!

ये परिवर्तन यात्रा पांच से नौ नवंबर के बीच चार भागों में होगी! उत्तर प्रदेश  में सत्ता हासिल करने के लिए इस अभियान में प्रदेश के नेताओं की अहम भूमिका देखने को मिल सकती है! 24 दिसंबर तक चलने वाली इन यात्राओं के दौरान 192 दिन की अवधि में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 6 क्षेत्रीय सभाओं को संबोधित करेंगे. वहीं प्रदेश के दो वरिष्ठ नेता केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और कलराज मिश्रा 10-10 सभाओं में मुख्य वक्ता होंगे. इसके साथ ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह 10 दूसरी रैलियों को संबोधित करेंगे!

पार्टी ने अपने राष्ट्रीय नेताओं की 30 रैलियों की योजना बनाई है! उमा भारती भी छह रैलियों को संबोधित करेंगी! गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए यात्रा के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी! जिसमें केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ दो अन्य वरिष्ठ पार्टी नेता भूपेंद्र यादव और अनिल जैन मौजूद थे! प्रसाद ने कहा कि चार यात्राओं का समापन 24 दिसंबर को लखनऊ में होगा! इससे पहले यह 17000 किलोमीटर की दूरी तय करेगी!

उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से 71 पर बीजेपी के सदस्य हैं! यात्राओं में बीजेपी की सहयोगी पार्टियों के नेता राम विलास पासवान और रामदास अठावले भी रहेंगे जो राजग के दो प्रमुख दलित चेहरे हैं! उपेंद्र कुशवाहा भी भागीदारी करेंगे! प्रसाद ने इस मौके पर ‘पूर्ण बहुमत, संपूर्ण विकास, बीजेपी पर है विश्वास’ का नारा भी पेश किया!

पहली यात्रा पांच नवंबर को सहारनपुर से शुरू होगी! दूसरी परिवर्तन यात्रा छह नवंबर को झांसी से शुरू होगी! तीसरी यात्रा आठ नवंबर को सोनभद्र से और चौथी नौ नवंबर को बलिया से शुरू होगी! सभी चार यात्राओं की शुरूआत के मौके पर अमित शाह और कलराज मिश्रा उपस्थित रहेंगे, वहीं राजनाथ सिंह सहारनपुर को छोड़कर बाकी तीन जगहों पर मौजूद रहेंगे! इस दौरान केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘‘यात्राओं के केंद्र में लोगों की सहभागिता और विकास मुख्य बिंदु होंगे.’’ उन्होंने कहा कि इसमें पंचायत से संसद तक के सदस्य भाग लेंगे!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY