भारतीय मीडिया बेंगलुरु में हुए महिला उत्पीड़न पर चुप्पी साधे है और...

भारतीय मीडिया बेंगलुरु में हुए महिला उत्पीड़न पर चुप्पी साधे है और उत्तर प्रदेश की कलह पर फोकस रहा हैं- अरनब गोस्वामी

60
SHARE

समाज में माहीलाओं की सुरक्षा को लेकर बहुत सारी बाते होती रही है लेकिन कोई परिवर्तन दिखाई नहीं देता! मीडिया भी इस तरह की घटनाओं के रवैये पर तर्क वितर्क करती है। वरिष्ठ पत्रकार और टीवी एंकर अरनब गोस्वामी ने बेंगलुरु महिला उत्पीड़न पर भारतीय मीडिया के रवैये पर सवाल खड़ा किया है।

अरनब गोस्वामी ने कहा कि भारतीय पत्रकारिता के मठाधीश बेंगलुरु में हुए महिला उत्पीड़न पर चुप्पी साधे हुए हैं और उत्तर प्रदेश की पारिवारिक कलह पर फोकस रहें हैं। अरनब ने कहा कि भारतीय मीडिया सही और गलत के बीच फर्क भूल चुका है। अरनब ने दिल्ली स्थित पत्रकारों पर निशाना साधते हुए कहा वो इतने समझौतावादी हो चुके हैं सत्ता से इतने मिल चुके हैं कि उन्हें जनता के प्रतिनिधित्व का अधिकार नहीं है। अरनब बेंगलुरु में आयोजित कार्यक्रम अंडर 25 सम्मिट में युवाओं को संबोधित कर रहे थे।

गोरतलब है बेंगलुरु में नये साल की शाम और रात को कई महिलाओं के संग छेड़खानी हुई थी जिस पर गोस्वामी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में उन्हें एंकरिग न करते होने का जितना मलाल हुआ है उतना पहले कभी नहीं हुआ। अरनब ने कहा कि बेंगलुरु के मंत्री के बयान पर उन्हें बहुत तेज गुस्सा आया। अरनब ने पूछा मीडिया कहां है? उसे किस बात में रुचि है? लोग मुझसे पूछ रहे हैं कि आप रिपब्लिक क्यों लॉन्च कर रहे हैं? मैं कहता हूं इसलिए!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY