नोटबंदी से तीन दिन पहले को-ऑपरेटिव बैंक में 500 करोड़ रुपये जमा...

नोटबंदी से तीन दिन पहले को-ऑपरेटिव बैंक में 500 करोड़ रुपये जमा कराने का आरोप अमित शाह पर

62
SHARE

नोटबंदी से सारा देश अस्त व्यस्त है और कई लोगों की जान आज नोटबंदी के कारण चली गई मोदी सरकार का एक बड़ा फैसला जिसने सारे देश को हिला कर रख दिया। पीएम मोदी ने ढ़ंके की चौट पर कहा था की यह फैसला गुप्त रखा गया था इसकी जानकारी किसी को नहीं थी लेकिन आज 8 नवंबर को सुनाए गए नोटबंदी फैसले के तीन दिन में अहमदाबाद के एक को.ऑपरेटिव बैंक में 500 करोड़ रुपए जमा कराए गए। यह बैंक अहमदाबाद के आश्रम रोड़ पर स्थित है। इसका निदेशक कोई नहीं बल्कि खुद भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व गुजरात के पूर्व गृहमंत्री अमित शाह है।

एक को.ऑपरेटिव बैंक में सिर्फ तीन दिन में 500 करोड़ जमा होना एक बड़ा सवाल है। क्योंकि इन बैंकों में किसानए मझोले व्यापारी व छोटे दुकानदारों के खाते ज्यादा हुआ करते हैं। ऐसे में इतनी बड़ी रकम कई सवाल पैदा करती है। इस बड़ी रकम जमा होने पर प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग जांच में लग गया है। जांच विभागों ने सीसीटीवी फुटेज भी तलाशना शुरू कर दिया है।

जिस को.ऑपरेटिव बैंक के बीजेपी अध्यक्ष निदेशक है उसकी 190 ब्रांच है। लेकिन जिस दिन नोटबंदी का एलान हुआ उसी वक्त 500 करोड़ रुपये मुख्य ब्रांच में जमा कराए गए। सवाल उठता है की इतनी बड़ी रकम बैंक में जमा कराने को लेकर बीजेपी के किसी ख़ास व्यक्ति का होना बताया जा रहा है। क्योंकि गुजरात में लगभग 18 को-ऑपरेटिव बैंक है जिसमें 17 को-ऑपरेटिव बीजेपी के कब्जे में है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY