सीरिया की कम उम्र की लड़कियों के साथ हो रहा है यह...

सीरिया की कम उम्र की लड़कियों के साथ हो रहा है यह घिनौना काम

131
SHARE
Syrian refugee girls sit at the United Nations Children's Fund (UNICEF) "Child Friendly Spaces" (CFSs) in the Zaatari refugee camp, near the Jordanian border with Syria, on March 8, 2014.

सीरिया में इस समय जो माहौल है वो किसी से छुपा नहीं है इस समय और भी कुछ लोग वहां की दयनीया स्थिति का फायदा उठाने से भी नहीं चूक रहे। सऊदी अरब के शेखों ने अब मजलूम लड़कियों की मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक सऊदी अरब के रईसजादे युद्ध की मार झेल रहे सीरिया से कम उम्र की लड़कियाँ खरीद कर लाते हैं। बेहद मुफलिसी में जी रहे सीरिया में सस्ते दामों में कमसिन लड़कियाँ मिल जाती हैं जिससे सऊदी अरब के 70 साल के बूढ़े अपनी ठरक मिटाते हैं। गौर करने वाली बात ये है कि कोई इसका विरोध नहीं करता।

रिपोर्ट्स के मुताबिक मि़डिल ईस्ट के रिफ्यूजी कैंप में इन दिनों सऊदी अरब के रईसों का जमावड़ा लगा रहता है। वजह है यहाँ दरबदर की ठोकर खाकर पहुँची लड़कियाँ। ये रईस यहीं से लड़कियों की खरीद.फरोख्त करते हैं और फिर इन्हें सऊदी अरब ले जाकर उनका बलात्कार करते हैं।

हैरान करने वाली बात ये है कि इस बात को इस्लाम में हराम मानने के बावजूद कोई इसका विरोध नहीं करता। इस घनौने काम के बारे में पता सभी को है। एक इमाम ने तो यहाँ तक कह दिया कि अगर कोई लड़की खरीदने में सक्षम है तो बिल्कुल खरीद सकता है। इसमें बुराई क्या हैघ्

लड़की की जितनी कम उम्र उतना ही ज्यादा दाम। ज्यादातर 70 साल के बूढ़े 13 साल की मासूम बच्चियाों को चुनते हैं। रिफ्यूजी कैंपों से निकलकर इन लड़कियों की जिंदगी नर्क जैसी हो जाती है क्योंकि 70 के बूढ़े उनसे रोज़ बलात्कार करते हैं। उनसे जबरजस्ती की जाती है। जब मन भर जाता है तो उन्हें छो़ड़ दिया जाता है और नई कमसिन लड़की को खरीदने पहुँच जाते हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY