मुसलमानो ने की बाढ़ पीड़ितों की मदद, मोदी ने की जमकर तारीफ

मुसलमानो ने की बाढ़ पीड़ितों की मदद, मोदी ने की जमकर तारीफ

39
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में जमीअत उलेना ए हिन्द के प्रयासों की सराहना की है,पीएम ने कहा कि गुजरात में बाढ़ के बाद गंदगी देखने को मिली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में बाढ़ के दौरान जमीयत उलेमा-ए-हिंद के सफाई के लिए किए गए प्रयासों की सराहना की,उन्होंने कहा कि जमीअत ने बेहतरीन काम किया।
पीएम ने मन की बात में कहा कि त्योहार के समय जब हिंसा की खबर आती है तो परेशान होना जायज है जो लोग कानून को अपने हाथ में लेते हैं या हिंसा करते हैं, उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा, चाहे वह जो हों विश्वास के नाम पर हिंसा को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, चाहे वह समुदाय, राजनीति, विचारधारा या व्यक्ति पर आधारित क्यों न हो खुश हूं कि गणेशोत्सव जैसे त्योहार पर्यावरण को ध्यान में रखकर मनाए जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि इस बार 2 अक्टूबर को स्वच्छ 2 अक्टूबर बने, 15 सितंबर से ही ‘स्वच्छता ही सेवा’ को मुहिम बनाएं, जब भी हमारा किसी मेहनतकश व्यक्ति से सामना होता है तो मोलभाव करते हैं, बड़ी जगहों पर बिल देखते भी नहीं। 29 अगस्त, खेल दिवस का जिक्र करते हुए मेजर ध्यानचंद को याद किया, खेल का मैदान प्ले स्टेशन से ज्यादा जरूरी बताया। प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत खुले खाते 16 अगस्त, 2017 तक 29।52 की संख्या तक पहुंच चुके थे। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस शिक्षा दिवस हम सब संकल्प लें कि बदलाव के लिए पढ़ाएंगे, सशक्तीकरण के लिए शिक्षित करेंगे और नेतृत्व करना सीखेंगे। मन की बात में PM मोदी ने मुसलमानों की तारीफ़ करते हुए कहा की ‘गुजरात में बीते दिनों बाढ़ आई। लेकिन बाढ़ का पानी जब चला गया तो वहां हालात और भी खराब हो गए। लेकिन मुस्लिम भाईयों ने इस दौरान बहुत सराहनीय कार्य किया। गुजरात में जमियत उलेमा ए हिंद के लोगों ने गुजरात के 22 मंदिर की साफ सफाई की। उन्होंने मस्जिदों को भी साफ किया।’

SHARE

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY