बाबा रामदेव का बयान

बाबा रामदेव का बयान

53
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र के 500-1000 के नोट के बंद किए जाने की तारीफ करते हुए योग गुरु बाबा रामदेव ने लोगों से सरकार की मदद करने की अपील की है। उन्होंने कहा, आजादी के बाद हमें पहला ऐसा नेता मिला है, जिसके पास मजबूत राजनीतिक इच्छाशक्ति है। उन्होंने विपक्ष पर एटीएम और बैंकों में भीड़ बढ़वाने का आरोप भी लगाया है।

दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में रविवार को बाबा रामदेव ने पांच सौ व हजार रुपये के नोट बंद करने के सवाल पर कहा आर्थिक चुनौतियां से देश जूझ रहा है। बड़े नोट बंद करने से मोदी ने भ्रष्टाचार, कालाधन, आतंकवाद और नकली नोटों के कारोबार करने वालों को करारा झटका दिया है। रामदेव ने यह भी कहा कि सरकार को बदनाम करने के लिए विपक्ष लोगों को एकत्रित कर एटीएम और बैंकों में भीड़ बढ़ा रहा है। उन्होंने कहा कि आरोप मढ़ने की बजाय व्यवस्था स्वच्छ करने के इस प्रयास में सरकार का सहयोग करें।

जब युद्ध होता है तो सैनिकों को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और कई सप्ताह तक भूखा रहना पड़ता है। क्या देश के कल्याण के लिए कुछ दिनों तक इस कठिनाई को नहीं उठा सकते? उन्होंने कहा कि कुछ लोग सरकार पर दोष मढ़ रहे हैं। क्योंकि अचानक उठाए गए इस कदम से उन्हें दिक्कत हो रही है।

SHARE

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY