ताज में बैन हो नमाज या मिले शिव चालीसा की इजाजत- RSS

ताज में बैन हो नमाज या मिले शिव चालीसा की इजाजत- RSS

25
SHARE

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय इतिहास संकलन समिति ने मांग की है कि ताजमहल में होने वाली नमाज को बैन किया जाए। आपको बता दें की, RSS से संबद्ध इस संगठन के सचिव डॉक्टर बालमुकुंद पांडे ने एक इंटरव्यू में बातचीत के दौरान ये कहा था, कि ताजमहल राष्ट्रीय धरोहर है।
आखिर क्यों मुस्लिमों को राष्ट्रीय धरोहर का इस्तेमाल करने दिया जा रहा है? ताजमहल परिसर में होने वाली नमाज को बैन किया जाना चाहिए। डॉक्टर पांडे ने मांग की है कि अगर परिसर में नमाज करने की अनुमति है तो हिंदुओं को भी शिव चालीसा का पाठ करने दिया जाए।

ताज में बैन हो नमाज या मिले शिव चालीसा की इजाजत- RSS

नमाज की वजह से ताजमहल को शुक्रवार को बंद रखा जाता है। हाल ही में ताजमहल के भीतर हिंदू युवा वाहिनी के सदस्यों द्वारा शिव चालीसा का पाठ किए जाने को लेकर मामला बढ़ गया। कार्यकर्ताओं का कहना है कि प्राचीन शिव मंदिर है को तोड़कर ताजमहल बनाया गया है , जिस वजह से उन्हें वहां शिव चालीसा के पाठ का अधिकार है।

उनका ये भी कहना है कि इस बात के सबूत मौजूद हैं कि शिव मंदिर को हिंदू राजा ने बनवाया था। डॉक्टर पांडे का दावा है कि ताजमहल प्यार की निशानी नहीं है, क्योंकि शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज की मौत के 4 महीने के भीतर शादी कर ली थी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY